रिजर्व बैंक ने मध्यकालिक रणनीति रूपरेखा उत्कर्ष 2022 की शुरुआत की

RBI (PIC - PTI)

रिजर्व बैंक ने मंगलवार को बैंक की मध्यम काल के तैयार की गई रणनीति रूपरेखा ‘उत्कर्ष 2022’ की शुरुआत की। यह रणनीति वैश्विक स्तर पर बन रहे वृहद आर्थिक परिवेश के अनुरूप तैयार की गई है। एक अधिकारिक विज्ञप्ति में यह कहा गया है।

विज्ञप्ति में कहा गया है कि इस रणनीतिक रूपरेखा की शुरुआत आरबीआई को मिले अधिकारों के तहत बेहतर कार्यप्रदर्शन हासिल करने तथा नागरिकों एवं अन्य संस्थानों का केन्द्रीय बैंक में विश्वास मजबूत करने के लिये की गई है।

रिजर्व बैंक ने कहा है कि उसका प्रबंधन ‘उत्कर्ष 2022’ को लेकर काफी गंभीर है और इसे काफी महत्व देता है। केन्द्रीय बैंक एक उप- समिति के जरिये इसके क्रियान्वयन और प्रगति की समय समय पर निगरानी करता रहेगा।

रिजर्व बैंक के मूल उद्देश्य, मूल्यों और दृष्टि वक्तव्यों को नये सिरे से स्पष्ट करने के लिये अप्रैल 2015 में एक औपचारिक रणनीतिक प्रबंधन रूपरेखा को जारी किया गया था। इसका मकसद रिजर्व बैंक की रणनीति के लिये समय के अनुरूप एक नई रूपरेखा तैयार की जा सके।

एक विज्ञप्ति में रिजर्व बैंक ने कहा है कि ये मूल उद्देश्य और मूल्य उसके लिये आज भी महत्वपूर्ण हैं और वैध हैं। ‘‘बहरहाल, मध्यमकाल के लिये एक बेहतर दृष्टि वक्तव्य की जरूरत महसूस की गई हो कि उभरती चुनौतियों और अर्थशास्त्र की विभिन्न परिस्थितियों, सामाजिक और प्रौद्योगिकीय परिवेश जिसमें हम काम करते हैं उसके प्रति हमारी प्रतिक्रिया को परिलक्षित करने वाला हो।’’

TEXT-PTI

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published.