भारतीय एनिमेशन उद्योग के जनक राम मोहन का निधन

राम मोहन (PIC FROM WIKI)

भारतीय एनिमेशन उद्योग के जनक माने जाने वाले राम मोहन का शुक्रवार को 88 साल की उम्र में  निधन हो गया। पारिवारिक सूत्रों ने यह जानकारी दी।

उन्होंने 1956 में भारत सरकार के फिल्म प्रभाग की कार्टून इकाई से अपने करियर की शुरुआत की थी। वर्ष 1968 में मोहन ने फिल्म प्रभाग से इस्तीफा दे दिया और वह प्रसाद प्रोडक्शन में एनिमेशन प्रभाग के प्रमुख के तौर पर शामिल हुए।

मोहन ने 1972 में अपनी निर्माण कंपनी राम मोहन बायोग्राफिक्स की शुरुआत की जिसने कई विज्ञापनों और 1992 में रामायण : द लीजेंड ऑफ प्रिंस राम का एनिमेटेड फीचर बनाया। इस फीचर के सह निर्देशन उन्होंने जापान के युगो साको के साथ किया।

मोहन को मुख्य धारा की कई फिल्मों में एनिमेटेड दृश्य देने का श्रेय जाता है जिनमें बीआर चोपड़ा की 1978 में आई ‘पति, पत्नी और वो’ , सत्यजीत रे की फिल्म ‘शतरंज का खिलाड़ी’, मृणाल सेन की फिल्म ‘ भुवन सोम’ , ‘बीवी वो बीवी’, ‘दो और दो पांच’ और ‘कामचोर’ प्रमुख हैं।

 

TEXT- PTI

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published.