बांग्लादेश में सोशल मीडिया पर फैली अफवाह के बाद भीड़ ने आठ लोगों को पीटकर मार डाला

बांग्लादेश में पुल निर्माण के लिए बच्चे का अपहरण कर बलि देने की सोशल मीडिया पर फैली एक अफवाह के बाद भीड़ ने आठ लोगों की पीट-पीटकर हत्या कर दी। पुलिस ने बुधवार को यह जानकारी दी।

पुलिस प्रमुख जावेद पटवारी ने बताया कि मृतकों में दो महिलाएं भी शामिल हैं। उन्हें मुख्यत: फेसबुक पर फैलाई गई इस अफवाह के बाद गुस्साई भीड़ ने निशाना बनाया कि 3 अरब डॉलर की विशाल परियोजना के लिये मनुष्यों के सिरों की जरूरत है।

पटवारी ने ढाका में पत्रकारों को बताया कि, “हम इन आठ हत्याओं के हर एक मामले की जांच कर रहे हैं। भीड़ ने जिन लोगों की पीट-पीटकर हत्या की उनमें से कोई भी बच्चे का अपहरणकर्ता नहीं था।” अफवाह को लेकर 30 अन्य लोगों पर भी हमला किया गया है।

पटवारी ने कहा कि देशभर के सभी पुलिस थानों को अफवाह से निपटने का आदेश दिया गया है और कम से कम 25 यू-ट्यूब चैनल, 60 फेसबुक पेजों और 10 वेबसाइटों को बंद कर दिया गया है।

पुलिस ने कहा कि मृतकों में दो बच्चों की मां तस्लीमा बेगम शामिल हैं, जिन्हें बच्चे की अपहरणकर्ता समझकर भीड़ ने शनिवार को ढाका स्कूल के सामने पीट-पीटकर मार डाला।

एक बधिर व्यक्ति की भी ढाका से बाहर उसी दिन पीट-पीटकर हत्या कर दी गई जब वह अपनी बेटी से मिलने जा रहे थे।

पुलिस ने कहा कि तस्लीमा की हत्या को लेकर आठ लोगों को गिरफ्तार किया गया है और सोशल मीडिया पर अफवाह फैलाने के मामले में कम से कम पांच लोगों की गिरफ्तारी की गई है।

जिस पुल को लेकर अफवाह फैलाई गई उसका निर्माण गंगा नदी की एक प्रमुख सहायक नदी पद्मा पर किया जा रहा है।

 

TEXT-PTI

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published.