दिल्ली में वायु गुणवत्ता अब भी गंभीर श्रेणी में

PIC BY PTI

नयी दिल्ली, 16 नवंबर (PTI)– राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में शनिवार सुबह प्रदूषण के स्तर में थोड़ी गिरावट आई, हालांकि, शहर में हवा की गुणवत्ता अब भी ‘‘गंभीर’’ श्रेणी में बनी हुई है।

दिल्ली में शनिवार सुबह आठ बजकर 40 मिनट पर वायु गुणवत्ता सूचकांक (एक्यूआई) 412 दर्ज किया गया, जबकि शुक्रवार सुबह 10 बजे एक्यूआई 467 था। फरीदाबाद में एक्यूआई 427, गाजियाबाद में 424, ग्रेटर नोएडा 377, नोएडा में 411 और गुड़गांव में एक्यूआई 420 रहा।

201 और 300 के बीच एक्यूआई को ‘खराब’ और 301-400 के बीच एक्यूआई ‘बेहद खराब’ तथा 401-500 के बीच एक्यूआई ‘गंभीर’ माना जाता है।

राष्ट्रीय राजधानी में न्यूनतम तापमान 16.1 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया जबकि आर्द्रता 82 प्रतिशत रही।

मौसम विभाग ने दिन में आसमान साफ रहने की संभावना जताई है, जबकि अधिकतम तापमान 28 डिग्री सेल्सियस के आसपास रहने का अनुमान है। तेज हवाएं चलने की भी संभावना है।

दिल्ली में लगातार चौथे दिन शुक्रवार को भी धूमकोहरे (स्मॉग) की मोटी परत छायी रही और प्रतिकूल मौसम के कारण प्रदूषक कण नहीं छंटे। हालांकि रविवार तक वायु गुणवत्ता में सुधार होने की संभावना है।

राष्ट्रीय राजधानी में वायु गुणवत्ता सूचकांक (एक्यूआई) शुक्रवार शाम चार बजे 463 था और द्वारका सेक्टर आठ सबसे अधिक प्रदूषित क्षेत्र रहा, जहां एक्यूआई 495 था। वायु गुणवत्ता की निगरानी करने वाले अधिकतर स्टेशनों ने एक्यूआई 450 से अधिक दर्ज किया।

छिटपुट बारिश से प्रदूषण से निजात मिलने की संभावना कम है और इसलिए हवा की गुणवत्ता में 17 नवंबर तक सुधार होने की उम्मीद है।

दिल्ली सरकार ने हालांकि शुक्रवार को कहा कि सम-विषम योजना की अवधि को बढ़ाने पर सोमवार सुबह फैसला लिया जायेगा क्योंकि अगले दो-तीन दिनों में हवा की गुणवत्ता में सुधार होने की उम्मीद है।

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published.