दर्शकों की वाहवाही लूटने वाली ‘चेर्नोबिल’ श्रृंखला के निर्माता पर तथ्यों से छेड़छाड़ करने का आरोप

मानव इतिहास की बड़ी परमाणु दुर्घटनाओं में शामिल‘चेर्नोबिल परमाणु संयंत्र हादसे’ पर आधारित अमेरिका निर्मित ‘चेर्नोबिल’ श्रृंखला को एक तरफ रूसी दर्शक खूब सराह रहे हैं, वहीं दूसरी तरफ कुछ आलोचकों ने श्रृंखला के निर्माताओं पर आरोप लगाया है कि उन्होंने तथ्यों से छेड़छाड़ की ताकि सोवियत काल के प्राधिकारियों को बुरा दिखाया जा सके।

रूसी दर्शकों ने श्रृंखला की तारीफ करते हुए इसे वास्तविकता से काफी निकट बताया है।

रूस के समाचार पत्र ‘इज्वेस्तिया’ ने लिखा, ‘‘‘चेर्नोबिल’ में जो वास्तिवकता दिखाई गई है, वह उस दौर के बारे में बताने वाली अधिकतर रूसी फिल्मों से बेहतर है।’’

फिल्म एवं टीवी समीक्षक सुसाना अल्पेरिना ने कहा, ‘‘मुझे लगता है कि टीवी श्रृंखला के मामले में यह बहुत अच्छी गुणवत्ता का कार्यक्रम है। इसमें कोई दोष नहीं है।’’

लेकिन, कुछ रूसी मीडिया ने श्रृंखला को ‘‘दुष्प्रचार’’ बताया है। उनका कहना है कि इसमें उस समय के प्राधिकारियों की संगदिली और कार्रवाई करने में देरी को बढ़ा चढ़ा कर दिखाया गया है।

‘आर्ग्युमेंट्री आई फैक्टी’ समाचार पत्र ने लिखा कि यह कार्यक्रम ‘‘बेहतरीन तरीके से फिल्माया गया झूठ’’ है।

विश्व का यह सबसे बड़ा परमाणु हादसा 26 अप्रैल 1986 में हुआ था। इस विस्फोट में और इसके प्रभाव से 30 लोगों की मौत हो गई थी। इसके बाद विकिरण संबंध बीमारियों से हजारों लोग मारे गए थे। मृतकों का सटीक आकड़ा विवादित है।

उल्लेखनीय है कि एचबीओ के शो ‘चेर्नोबिल’ ने आईएमडीबी पर रेटिंग के मामले में ‘गेम ऑफ थ्रोन्स’ और ‘ब्रेकिंग बैड’ को पीछे छोड़ दिया।

अब तक छह जून तक आए पांच एपिसोड के इस शो को 10 रेटिंग में से 9.6 दिया गया है। इसकी पटकथा क्रैग मैजीन ने लिखी है और इसका निर्देशन जोहान रेंक ने किया है। यह रेटिंग 152,634 यूजर्स की रेटिंग पर आधारित है।

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published.